Home / News / India / नहीं मनाई दीवाली फिर दिल्ली क्यों हुयी काली ?

नहीं मनाई दीवाली फिर दिल्ली क्यों हुयी काली ?

– पूरे दिल्ली-एनसीआर में धूंध का कहर

तीन दिनों तक ऐसा ही मौसम रहने का अनुमान

दिल्ली-एनसीआर में एक बार फिर मौसम का मिजाज बिगड़ता हुआ नजर आ रहा है। मंगलवार सुबह से ही पूरे दिल्ली-एनसीआर में घना कोहरा छाया हुआ है। मौसम और विज्ञान विभाग का कहना है कि यह एक तरह से एयर इमरजेंसी जैसा हालात है। प्रदूषक कण वायु के साथ मिलकर एक स्थान पर इक्कठा हो गये हैं और हवा के ना चलने से इनका विस्थापन नहीं हो रहा है।

दीवाली ना मनाने के बाद भी क्यों फैला प्रदूषण-

अगर आपको याद हो तो जिस तरह धुंध का माहौल आज बना हुआ है उसी प्रकार पिछले साल भी दिवाली के समय ऐसा ही मौसम हो गया था। उस समय बड़े-बड़े विशेषज्ञों ने बताया था कि यह सारा धुंध दिवाली पर जलाये जा रहे पटाखों की वजह से हुआ है। और अगर ऐसा ही है तो इस बार तो दीवाली पर पूरी तरह से बैन लगा हुआ था। फिर इस बार ऐसा मौसम क्यों बना और हवा जहरीली क्यों हुई?

खेत जलाने को भी बताया था वजह-

पीछली साल विशेषज्ञों ने कटे हुये खेतों को जलाने से भी प्रदूषण फलने की बात कही थी। और कहा था कि हरियाणा और पंजाब के किसानों ने अपनी धान की फसलों की कटाई के बाद खेतों को जला दिया था। उस समय हवा के साथ प्रदूषक कण भी इधर-उधर फैल गये थे। जिससे घना धूंध फैल गया था।

क्या है असली कारण –

अगर मीडिया रिपोर्ट पर ध्यान दें तो अभी हाल ही में पाकिस्तान के हिस्से वाले पंजाब में भारी मात्रा में खेत जलाये गये थे। जिससे निकलने वाला प्रदूषक हवा के बहाव से भारत में भी आ गया था। जिससे ऐसे हालात उत्पन्न हुये हैं। वहीं पाकिस्तान नें भी भारत पर इंल्जाम लगाया था कि भारतीय किसान अपने खेतों को जलाया है। जिससे पाकिस्तान में भी धुंध हो गई थी।

एनजीटी ने मांगा सरकारो से जवाब-

दिल्ली की इस इमेरजेंसी पर एनजीटी ने दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और उत्तर प्रदेश की सरकारो से कल तक जवाब मांगा है। और दिल्ली सरकार को इस मामले पर कड़ी फटकार लगाई है। वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसको गंभीर मुद्दा बताया है। और सभी स्कूलों की छुट्टी करने की बात भी कही है।

 

 

 

 

 

 

About AVIRAL TRIPATHI

Check Also

China objects to Ramnath Kovind’s Arunachal trip, says bileteral ties at ‘critical’ point

China unequivocally scrutinized on Monday President Ram Nath Kovind’s visit to Arunachal Pradesh, saying Sino-India …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *