Home / News / India / दिल्ली में जहरीले धुंध को लेकर छिड़ी जुबानी जंग, कैप्टन अमरिंदर ने केजरीवाल को बताया ‘अजीब व्यक्ति’

दिल्ली में जहरीले धुंध को लेकर छिड़ी जुबानी जंग, कैप्टन अमरिंदर ने केजरीवाल को बताया ‘अजीब व्यक्ति’

नई दिल्ली: दिल्ली में बढ़ते वायु प्रदूषण ने पीछले कई दिनों से पूरी दिल्ली को जहर की चादर में लपेट रखा है । जिससे लोगों का जीना तो दूर सांस लेना भी दूभर हो चुका है । वायु प्रदूषण को लेकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंद सिंह और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल के बीच जुबानी जंग शुरू हो चुकी है । इस मसले पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने पंजाब और हरियाणा के मुख्यमंत्री से बैठक की इच्छा जतायी थी । जिसपर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने केजरीवाल पर तंज कसते हुए की उन्हें ‘अजीब व्यक्ति’ करार दिया है ।

मीडीया स्रोतों के मुताबिक कुछ दिन पहले खेत जलायें जाने की बात सामने आने पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने यह बयान दिया है । साथ ही उन्होंने कहा कि ‘केजरीवाल बिना कुछ सोचे समझे कुछ भी बोल देते हैं’ । उन्होंने यह भी कहा कि ‘पंजाब में दो करोड़ धान टन धान की पराली है, तो क्या मैं किसानों को इसे जमा करने के लिए कह दूं’।

प्रत्येक वर्ष पराली जलाने से आस-पास के क्षेत्रों में धुंध की स्थिति बढ़ जाती है । इस साल बढ़ते हुए एर पॉल्यूशन को देखकर लगता कई वर्षों का रिकार्ड टूटने वाला है । इस भयावाह परिस्थिति को देखते हुए शहर के प्राथमिक स्कूलों को बंद कर दिया गया । खबरों के मुताबिक जब 21 सक्रिय प्रदूषण निगरानी केंद्रों में से 18 में वायु गुणवत्ता की स्थिति ‘गंभीर’ दर्ज की गई ।

बता दें कि बीते दिनों बीते दिनों केजरीवाल ने पंजाब और हरियाणा के किसानों द्वारा पराली जलाए जाने के मसले को लेकर समाधान हेतु बैठक के लिये समय मांगा था । साथ ही केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा था, ‘मैं पंजाब (अमरिंदर सिंह) व हरियाणा (मनोहर लाल खट्टर) के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर पुआल जलाने पर नियंत्रण लगाने के मुद्दे पर चर्चा के लिए मुलाकात का अनुरोध कर रहा हूं’ । लेकिन दोनों मुख्यमंत्रियों ने सीएम अरविंद केजरीवाल के अजीबों-गरीब बयान के चलते उनसे मिलने से मना कर दिया ।

About anshu

Check Also

Sushil Kumar ought not acknowledge his Nationals gold award, says Farhan Akhtar

Sushil Kumar finished his desolate keep running of nine years without a Wrestling Nationals gold …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *